मउगा: कहानी (कमलेश)

हमारी परम्पराएं जाती धर्म ताकत सभी एक साथ प्यार पर पैहरा बैठाने के या प्यार का गला घोंट देने की कोशिश में इंसानों का ही खून बहाते रहे हैं | प्यार तो इंसानी रूह और आस्था के भगवान की तरह जाति, धर्म, परम्परा और तम... Read More...

बांध: कहानी (कमलेश)

"देर रात एक नाव आती। नाव पर हथियार लिये कुछ लोग सवार रहते। बांध के चारो ओर नाव घूमती और जैसे ही कोई लड़की नजर आती हथियारबंद लोग उसे खींच कर नाव पर चढ़ा लेते। इसके बाद उस लड़की का पता नहीं चलता। जगदीश राय ने जहां श... Read More...