कलबुर्गी तुम्हारे लिए : कविता (पुलकित फिलिप)

युवा कवि 'पुलकित फिलिप' की कविताओं के रचना संसार का ज्यादा भाग आक्रोश से भरा है | यह रचनाएं गवाह हैं इस बात की कि वर्तमान युवा केवल निराशा से ही नहीं बल्कि आक्रोश से भी भर रहा है | बतौर बानगी पूँजी और पूँजीवाद ... Read More...

पिंजर पर टंगी त्वचा एवं अन्य कविता (पुलकित फिलिप)

23 वर्षीय भगत सिंह आज तक युवाओं के प्रेरणा श्रोत हैं ..... यह अलग बात है कि कम ही युवा पीढ़ी भगत सिंह को महज़ एक व्यक्ति के रूप में ही नहीं उन्हें उनके सम्पूर्ण विचार के साथ जानती पहचानती है, और यह बात कहने से नह... Read More...