सूरज प्रकाश

किस्‍से किताबों के: “पहली क़िस्त” (सूरज प्रकाश)

“किस्से किताबों के” की पहली क़िस्त में ‘सूरज प्रकाश जी’  के कुछ नोट्स (भूमिका) के साथ आज प्रस्तुत हैं दो किस्से ….. (हिंदी के वरिष्ठ कथाकार ‘सूर... Read More...
सूरज प्रकाश

किस्‍से किताबों के: दूसरी क़िस्त (सूरज प्रकाश)

हमरंग पर सूरज प्रकाश द्वारा लिखित विशेष व्यन्ग्यालेख ‘किस्से किताबों के’ की दूसरी क़िस्त – किस्‍से किताबों के – किस्‍सा तीन इस बार का किस्‍... Read More...
सूरज प्रकाश

किस्‍से “सूरज प्रकाश” के…

हमरंग पर सूरज प्रकाश द्वारा लिखित विशेष व्यन्ग्यालेख ‘किस्से किताबों के’ की तीसरी क़िस्त – किस्‍से किताबों के – किस्‍सा पाँच सूरज प्रकाश ... Read More...
‘मंटो का टाइपराइटर’ रोचक प्रसंग

‘मंटो का टाइपराइटर’ रोचक प्रसंग

कृशन चंदर जब  दिल्‍ली रेडियो में थे, तभी पहले मंटो और फिर अश्‍क भी रेडियो में आ गये थे। तीनों में गाढ़ी छनती थी। चुहलबाजी और छेड़छाड़ उनकी ज़िंद... Read More...