बे-सिर-पैर की बातें : कवितायें (सौरभ शेखर)

सौरभ शेखर की कवितायें समाज के वह प्रतिबिम्ब हैं जो समय के साथ चलते हुए अक्सर ही छोटी-बड़ी घटना, विचार और व्यक्तित्व के रूप में सामने आते हैं इन विभिन्न सामाजिक पहलुओं को शब्द और अभिव्यक्ति में पिरोने का कौशल आपक... Read More...