‘श्वेता मिश्र’ की कवितायें

नाइजीरिया में फैशन डिजाईनर के रूप कार्यरत 'श्वेता मिश्र' की कवितायें निच्छलता के साथ मुक्त रूप से स्त्री मन की उस अभिव्यंजना के तरह नज़र आती हैं जो न केवल लेखकीय अभिव्यक्ति है बल्कि कहा जाय कि वर्तमान सामाजिक मा... Read More...

‘शिव प्रकाश त्रिपाठी’ की कविताएँ …

कम शब्दों में बहुत कुछ कहने और समझाने का प्रयास करती 'शिव प्रकाश त्रिपाठी' की कविताएँ .......  'शिव प्रकाश त्रिपाठी' की कविताएँ ...  शिवप्रकाश त्रिपाठी 1- जब भी मै लिखता हूँ भिंची हुई मुट्ठी, भौहें तन जात... Read More...

गद्दार कुत्ते: एवं अन्य कविताएँ (दामिनी यादव)

कविता से हमेशा ही सौन्दर्य टपके ऐसा नहीं होता बल्कि विचलन भी होता है जब कविताई बिम्ब हमें अपनी सामाजिक, राजनैतिक स्थितियों के विकृत हालातों के रूप में नज़र आते हैं | लेखकीय दृष्टि से गुज़रता अपने समय और समाज का क... Read More...